Bharat Bandh Today Live Updates Chandrashekhar Azad, High Alert In Up Bihar, Opposition Support This – भीम आर्मी का भारत बंद: कई दलों का समर्थन, बिहार-यूपी में अलर्ट

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Sun, 23 Feb 2020 10:11 AM IST

चंद्रशोखर आजाद (फाइल फोटो)
– फोटो : Facebook

खास बातें

  • भीम आर्मी के मुखिया चंद्रखेखर आजाद ने सीएए, एनआरसी और दलितों की पिटाई के विरोध में भारत बंद बुलाया है।
  • बंद के मद्देनजर यूपी और बिहार में हाई अलर्ट है।
  • कई दलों ने बंद का समर्थन किया है।
  • आजाद ने लोगों से शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन करने की अपील की है।

लाइव अपडेट

08:48 AM, 23-Feb-2020

बिहार में बंद का असर

भारत बंद का असर बिहार के कई जिलों में दिखना शुरू हो गया है। दरभंगा में भाकपा (माले) के कार्यकर्ताओं ने ट्रेन रोक दी है वहीं बेगूसराय में भी असर देखने को मिल रहा है। बता दें कि बिहार में बंद का राजद, भाकपा (माले) समेत कई विपक्षी पार्टियों ने समर्थन किया है।

08:28 AM, 23-Feb-2020

किसी भी अप्रिय घटना से बचें: चंद्रशेखर आजाद

चंद्रशेखर आजाद ने ट्वीट कर कहा, ‘मैं सभी राजनीतिक पार्टियों से अपील करता हूं कि 23 फरवरी के भारत बंद में सहयोग करें। जय भीम। मेरी पूरे बहुजन समाज से अपील है कि नाइंसाफी के खिलाफ आवाज उठाना हमारा मौलिक अधिकार है इसलिए शांतिपूर्ण ढंग से भारत बंद करवाएं। किसी भी अप्रिय घटना से बचें। भाजपा के लोग आपको उकसाने की कोशिश करेंगे किसी भी प्रकार के उकसावे में न आएं।’

08:20 AM, 23-Feb-2020

बंद को मिला बिहार की विपक्षी पार्टियों का साथ

चंद्रखेखर आजाद द्वारा बुलाए गए भारत बंद का विपक्षी पार्टियों ने समर्थन किया है। यह बंद सुप्रीम कोर्ट के उस फैसले के खिलाफ है जिसमें कहा गया था कि राज्य सरकारी नौकरियों और पदोन्नति में कोटा देने के लिए बाध्य नहीं हैं। इसके अलावा नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) और दलितों की पिटाई को लेकर भी बंद बुलाया गया है। वहीं बिहार में भी बंद के मद्देनजर हाई अलर्ट है।

08:20 AM, 23-Feb-2020

मेरठ जोन में हाई अलर्ट

मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार का कहना है कि हम स्थिति पर पैनी निगाह बनाए हुए हैं। खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों के इनपुट को एक-दूसरे से साझा किया जा रहा है। फिलहाल मिले इनपुट के अनुसार भारत बंद का पश्चिमी यूपी में कोई खास फर्क नहीं पड़ेगा। दो अप्रैल को हुई हिंसा के तहत सावधानी बरती जा रही हैं। कुमार ने कहा, ‘दो साल पहले दो अप्रैल को भारत बंद के दौरान सोशल मीडिया की वजह से हुई घटनाओं को ध्यान में रखते हुए, हम निश्चित रूप से हाई अलर्ट पर हैं और हमारी नजर संभावित उपद्रवियों पर है। सोशल मीडिया पर खासतौर से नजर रखी जा रही है।’

07:38 AM, 23-Feb-2020

भीम आर्मी का भारत बंद: कई दलों का समर्थन, बिहार-यूपी में अलर्ट

भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर आजाद ने 23 फरवरी को भारत बंद का एलान किया हुआ है। जिससेके कारण पश्चिमी उत्तर प्रदेश को अलर्ट पर रखा गया है। दो अप्रैल, 2018 को जहां-जहां हिंसा हुई थी, वहां पुलिसबलों को तैनात किया जाएगा। शनिवार को एसएसपी ने वायरलैस के जरिए संदेश दिया कि जिस क्षेत्र से भीड़ आई, वहां के थानेदार को निलंबित कर दिया जाएगा।




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *