Caa Protest In Delhi Jafrabad Maujpur News In Hindi Delhi Maujpur Updates Babarpur – दिल्ली में दूसरे दिन भी आगजनी-बवाल, हिंसा में पुलिसकर्मी समेत पांच की मौत, 60 घायल

दिल्ली के जाफराबाद में नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर आज फिर से हिंसा भड़क उठी। हिंसा में एक पुलिसकर्मी सहित पांच लोगों की मौत हो गई है, अब तक 57 लोगों के घायल होने की जानकारी है। सीएए समर्थकों और विरोधियों के बीच हुई झड़प को देखते हुए राजधानी के 10 जिलों में धारा 144 लागू कर दी गई है। पुलिस ने बताया कि यह सारी घटनाएं छह से आठ किलोमीटर के क्षेत्र के अंदर हुई हैं।

गृह सचिव अजय भल्ला ने जानकारी दी है कि अब हालात काबू में हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अब तक एक पुलिसकर्मी के मौत की पुष्टि हुई है। एक हजार से ज्यादा लोगों का इकट्ठा होना इस बात की ओर इशारा करता है कि यह सुनियोजित साजिश थी। आज दोपहर में कई जगह हालात बहुत तनावपूर्ण थे, लेकिन अब स्थिति सामान्य बनी हुई है।

रात करीब आठ बजे उपद्रवियों ने गोकलपुरी का टायर मार्केट को भी फूंक दिया। यहां उपद्रवियों ने जमकर कोहराम मचाया। 

सोनिया गांधी ने की शांति बनाए रखने की अपील
सोनिया गांधी ने लोगों से सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने और देश को धर्म-मजहब के आधार पर बांटने वाली फिरकापरस्त ताकतों के गलत मंसूबों को विफल करने की अपील की है। उन्होंने इस हिंसा में मारे गए हेड कांस्टेबल रतल लाल की मृत्यु पर शोक व दुख व्यक्त किया है। 

पुलिस पर फायरिंग करने वाले शख्स की पहचान
 

दिल्ली पुलिस ने जानकारी दी है उत्तर-पूर्वी इलाके में हुई हिंसा में पुलिस पर फायरिंग करने वाले व्यक्ति की पहचान शाहरुख के रूप में हुई है। 

पुलिसकर्मी समेत चार की मौत
 

दिल्ली पुलिस के मुताबिक आज हुई हिंसा में अब तक कुल चार लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। इसमें तीन आम नागरिक और एक पुलिसकर्मी शामिल हैं।

10 पुलिसकर्मी घायल, एक की मौत : दिल्ली पुलिस
 

दिल्ली पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली में हुई हिंसा में आज दस पुलिसकर्मी घायल हुए है और एक की जान चली गई। घायल पुलिसकर्मियों का इलाज गुरु तेग बहादुर अस्पताल में किया जा रहा है।  

एक और शख्स ने गवाई जान, अबतक पुलिसकर्मी समेत तीन की मौत 
 

सूत्रों के मुताबिक उत्तर-पूर्वी दिल्ली में झड़पों में एक और नागरिक की मौत हो गई है। आज हुई झड़पों के दौरान एक पुलिस हेड कॉन्स्टेबल सहित कुल तीन लोगों की जान चली गई है।

कल केवल चार व्यावसायिक विषयों में होंगी बोर्ड परीक्षाएं : सीबीएसई पीआरओ
 

सीबीएसई, पीआरओ, रमा शर्मा कहा कि कल के कार्यक्रम के अनुसार दिल्ली के पश्चिमी भाग में 18 केंद्रों में चार व्यावसायिक विषयों में केवल बारहवीं कक्षा के लिए परीक्षाएं होंगी। कल होने वाली परीक्षा के लिए दिल्ली के उत्तर-पूर्व हिस्से में कोई केंद्र नहीं हैं।

उत्तर पूर्वी जिले में कल स्कूल बंद,  बोर्ड परीक्षा स्थगित
 

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली के उत्तर पूर्वी जिले में हिंसा प्रभावित इलाके में सभी सरकारी और निजी स्कूल बंद रहेंगे। मैंने जिले में बोर्ड परीक्षा के संबंध में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल से बात की है, उन्हें स्थगित कर दिया जाएगा।

गोपाल राय ने की कार्रवाई की मांग 
 

गोपाल राय ने ट्वीटर पर कहा कि बाबरपुर में चारों तरफ दहशत का माहौल बना हुआ है दंगाई फायरिंग व आग लगाते घूम रहे हैं लेकिन पुलिस फोर्स नहीं है। मैं लगातार दिल्ली के पुलिस कमिश्नर से बात करने की कोशिश कर रहा हूं। कमिश्नर फोन उठाने को राजी नहीं हैं। मेरा एलजी साहब व गृहमंत्री जी से आग्रह है कि तुरंत पुलिस फोर्स लगाएं।

कपिल मिश्रा ने की शांति बनाए रखने की अपील, भजनपुरा में एक शख्स की मौत  

भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा पर कहा कि मैं सभी से हिंसा रोकने की अपील करता हूं, क्योंकि इससे कोई समाधान नहीं निकलेगा। चाहे वह लोग जो वो लोग सीएए का समर्थन कर रहे हैं या इसके खिलाफ हो। मैं सभी से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। दिल्ली का भाईचारा बरकरार रहना चाहिए।

दिल्ली के भजनपुरा इलाके में दो समूहों के बीच झड़प के दौरान एक शख्स की मौत हो गई है। इससे पहले आज, दिल्ली पुलिस के एक हेड कांस्टेबल ने गोकुलपुरी इलाके में इसी तरह की झड़प में अपनी जान गंवा दी थी।

ये मेट्रो स्टेशन भी हुए बंद :

सुरक्षा कारणों के चलते उद्योग भवन, पटेल चौक, केंद्रीय सचिवालय और जनपथ मेट्रो स्टेशन के प्रवेश और निकास द्वार भी बंद कर दिए गए हैं। अब इंटरचेंज सुविधा केंद्रीय सचिवालय स्टेशन से उपलब्ध होगी। 

मूलरूप से सीकर के रहने वाले थे सिपाही रतन लाल 

हिंसा के दौरान हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की मौत हो गई। उनकी उम्र 42 साल थी, वो मूलरूप से राजस्थान के सीकर के रहने वाले थे। वो साल 1998 में कॉन्स्टेबल के पद पर दिल्ली पुलिस हुए थे। वर्तमान में वो एसीपी / गोकलपुरी के कार्यालय में तैनात थे।  उनके परिवार में अब उनकी पत्नी और 3 बच्चों (2 बेटियां, 1 बेटा) बचे हैं।

भारी पुलिस बल तैनात 

स्थिति पर नजर बनाए रखने के लिए सीनियर अधिकारी मौके पर मौजूद हैं, संवेदनशील जगहों पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।केंद्रीय अर्धसैनिक बल दिल्ली पुलिस को मुहैया करवा दिए गए हैं जो हालात को काबू करने में मदद कर रहे हैं।

इससे पहले जाफराबाद में पुलिस और लोगों के बीच झड़प हुई थी। इसमें उपद्रवी सड़क से हटकर गलियों में पहुंच गए, उन्होंने वहां दुकानों के शटर तोड़े और  गली-मोहल्लों में कोहराम मचा दिया, यहां लूटपाट की आशंका भी जताई जा रही है। 

इसी बीच गृह मंत्रालय ने दिल्ली में हो रही हिंसा पर बयान जारी कर कहा कि दिल्ली के कुछ हिस्सों में हुई हिंसा, अमेरिकी राष्ट्रपति के दौरे के मद्देनजर सुनियोजित होने की आशंका है। दिल्ली पुलिस स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पूरी कोशिश कर रही है और लगातार गृह मंत्रालय के संपर्क में है। दिल्ली पुलिस कमिश्नर कंट्रोल रूम से ही हालात पर नजर बनाए हुए हैं।

भजनपुरा में पुलिस पर फायरिंग करने वाले युवक का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ। इसके बाद पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया।  

केजरीवाल ने की शांति की अपील 
 

केजरीवाल ने सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों से शांति बनाएं रखने की अपील की, उन्होंने कहा मैंने अभी एलजी साहब से बात की। उन्होंने भरोसा दिलाया कि और पुलिस फोर्स भेजी जा रही है। किसी के भी द्वारा हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मेरी सभी लोगों से विनती है कि कृपया शांति बनाए रखें। हिंसा से कोई समाधान नहीं निकलेगा।

मेट्रो स्टेशन बंद

दिल्ली के उत्तर-पूर्व जिले में हिंसा के बाद एतिहात के तौर पर जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जोहरी एन्क्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन के प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए गए हैं। सेवाएं वेलकम मेट्रो स्टेशन पर ही समाप्त कर दी गई है। 

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने घटना का संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस को निर्देश दिए। जाफराबाद मेट्रो स्टेशन जाने के रास्ते को सील कर दिया गया है। मंत्रालय और एलजी ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से संपर्क कर स्थिति को काबू में करने के निर्देश दिए।

हिंसा के बीच भजन पुरा पेट्रोल पंप पर भी आगजनी की तस्वीरें भी सामने आई। जाफराबाद में महिलाएं अब भी धरने पर बैठी हुई हैं। हिंसा के बीच आम आदमी पार्टी के नेता अमानतुल्लाह खान मौके पर पहुंचे, उन्होंने महिलाओं से शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने के लिए अपील की। जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे भारी भीड़ जमा हो गई है। जिसे काबू करने के लिए भारी पुलिस बल मौके पर मौजूद रहा। इसी बीच शाहीन बाग से भी गोलीबारी की घटना सामने आई।

जाफराबाद में पुलिस के आंसू गैस चलाने के बाद भीड़ ने घरों में घुसकर एक पक्ष के लोगों को पीटना शुरू कर दिया। साथ ही उपद्रवी भीड़ ने करीब एक घंटे तक आसपास के घरों पर पत्थर बरसाए। यह पूरा घटनाक्रम पुलिस के सामने होता रहा और पुलिस हाथ पर हाथ रखकर बैठी रही। उपद्रवियों से जान बचाने के लिए लोग अपने घरों में दुबकने को मजबूर हैं। जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास उपद्रवियों ने दुकानों में आग लगाने के साथ सैकड़ो घरों के शीशे तोड़ दिए।

दिल्ली के हालात को देखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल और गृहमंत्री अमित शाह को शांति व्यवस्था के लिए सख्त कदम उठाने की अपील की है। उन्होंने ट्वीट किया कि दिल्ली के कुछ हिस्सों से शांति और सद्भाव को बिगाड़ने के बारे में बहुत परेशान करने वाली खबर आ रही है।

मैं उपराज्यपाल और माननीय केंद्रीय गृहमंत्री से आग्रह करता हूं कि कानून व्यवस्था को बहाल करने के लिए आवश्यक कदम उठाएं, साथ ही यह सुनिश्चित करें कि दिल्ली में शांति और सद्भाव बना रहे। किसी को भी इस तरह के काम की अनुमति नहीं मिलनी चाहिए। 

मौजपुर इलाके में भी सोमवार को लगातार दूसरे दिन सीएए के समर्थक और विरोधी समूहों के बीच झड़प जारी रही। इस दौरान दो पुलिसकर्मियों समेत 15 लोग घायल हो गए। फिलहाल पुलिस ने मौजपुर जाने के रास्ते को बंद कर दिया है। हालात बेहद तनावपूर्ण बने हुए हैं।

प्रदर्शनकारियों ने एक-दूसरे पर पथराव किया, जिसके बाद उन्हें तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े। पुलिस ने दोनों पक्षों को शांत कराने की भी कोशिश की। 

सुरक्षा की दृष्टि से दिल्ली मेट्रो ने जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए हैं। दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने ट्वीट किया, ‘‘जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश व निकास द्वार बंद कर दिए गए हैं। इन स्टेशनों पर ट्रेनें नहीं रुकेंगी।’’

मालूम हो कि मौजपुर में रविवार दोपहर भी सीएए और एनआरसी के समर्थक और विरोधी आपस में भिड़ गए थे। दोनों पक्षों की ओर से एक घंटे तक भारी पत्थरबाजी हुई थी। कल भी पुलिस को आंसू गैस का इस्तेमाल करना पड़ा था। 




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *