Coronavirus: coronavirus in Japan South Korea Italy Iran China Death Toll latest Updates | भारत ने ईरान के साथ उड़ान सेवा रद्द की, जापान-द.कोरिया के लिए वीजा ऑन अराइवल सुविधा भी बंद

  • चीन के बाहर सबसे ज्यादा संक्रमण द. कोरिया में, अब तक 2337 मामलों की पुष्टि

  • कोरोनावायरस से निपटने के लिए चीन ने ईरान को अब तक 2.5 लाख मास्क भेजे

  • ईरान में मृतकों की संख्या 26, उपराष्ट्रपति मसुओमेह इब्टेकर भी संक्रमित

Dainik Bhaskar

Feb 28, 2020, 07:45 PM IST

नई दिल्ली/तेहरान/ बीजिंग. जापान, ईरान और दक्षिण कोेरिया में कोरोनावायरस का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में भारत ने जापान और द.कोरिया के नागरिकों के लिए वीजा ऑन अराइवल की सुविधा निलंबित कर दी है। साथ ही ईरान के लिए सभी उड़ानों को रद्द कर दिया है। सिविल एविएशन के डायरेक्टर जनरल ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी। दोनों देशों के बीच अभी केवल महान एयर और ईरान एयर उड़ानों का संचालन करती है। दक्षिण कोरिया में चीन के बाद सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले दर्ज किए गए हैं। यहां 2337 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। साथ ही 13 लोगों की मौत हुई है।

ईरान के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश में अब तक 245 लोग संक्रमित हैं। उपराष्ट्रपति मसुओमेह इब्टेकर के भी गुरुवार को संक्रमित होने की खबर आई। देश में महामारी से अब तक 26 लोगों की जान जा चुकी है। चीन अब तक ईरान को 2.5 लाख मास्क भेज चुका है।

ईरान की उपराष्ट्रपति मसुओमेह इब्टेकर।

भारत में तीन संक्रमितों की हालत स्थिर

इस बीच भारत में कोरोनायवारस से संक्रमित पाई गई तीन लड़कियों की हालत अब स्थिर है। शुक्रवार को केरल की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने कहा कि कोरोनावायरस संक्रमण रोकने के पहले चरण में हम सफल हुए हैं। संक्रमित पाई गई तीन लड़कियों को आइसोलेशन में रखा गया था। उनका इलाज हो चुका है और अब उनकी हालत स्थिर है। उन्होंने बताया कि मलेशिया से एर्णाकुलम एयरपोर्ट पहुंचे एक व्यक्ति के गले में दर्द और बुखार जैसी समस्याएं पाई गईं। हम अभी यह नहीं कह सकते कि यह कोरोनावायरस संक्रमण का मामला है या नहीं। हमने उसे आइसोलेशन वार्ड में रखा है। उसके रक्त के नमूने वायरोलोजी इंस्टीट्यूट भेज दिया गया है। अभी तक केरल में 3,500 लोगों की जांच की गई थी। 28 दिन तक क्वैरेनटाइन में इन लोगों रखने के बाद उन्हें घर जाने की इजाजत दे दी गई। फिलहाल 135 लोगों को क्वैरेनटाइन में रखा गया है। 

चीन में एक दिन में 44 लोगों की मौत

उधर, चीन के स्वास्थ्य अधिकारियोें ने शुक्रवार को बताया कि देश में एक दिन में 44 लोगों की मौत हुई है, जबकि 327 नए मामले सामने आए। चीन में अब मौतों का आंकड़ा 2788 हो गया है। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता चाओ लिच्यान ने कहा कि महामारी के संकट के समय दूसरों की मदद करने का मतलब खुद की मदद करना है। मुश्किल समय पर साथ खड़े होकर एक-दूसरे को सहायता देने से दुनिया जल्द से जल्द महामारी को हरा सकेगा।

जापान, द. कोरिया, इटली और ईरान में कोरोनावायरस तेजी से फैल रहा

चीनी विदेश मंत्रालय के मुताबिक, वायरस की कोई राष्ट्रीय सीमा नहीं होती। जापान, दक्षिण कोरिया, इटली और ईरान जैसे देशों में कोरोनावायरस तेजी से फैला रहा है। अफ्रीका के कुछ देशों में भी संक्रमित मरीजों का पता चला है। इटली में अब तक 17 लोग मारे जा चुके हैं, जबकि 650 मामले सामने आ चुके हैं।

  • न्यूजीलैंड ने शुक्रवार कोरोनोवायरस के प्रकोप को देखते हुए एहतियात के तौर पर ईरान से आने वाले यात्रियों पर अस्थायी प्रतिबंध लगाया है।
  • नाइजीरिया में 27 फरवरी को वायरस के मामले का पता चला है। सब-सहारा अफ्रीका में यह पहला मामला है। नाइजीरिया के स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी।
  • पाकिस्तान ने भी ईरान के लिए सभी उड़ानें निलंबित की। पड़ोसी देश के साथ अपनी सीमाओं को भी बंद कर दिया।

55 से ज्यादा देशों में संक्रमण के मामले

चीन में 78824, द.कोरिया में 2337, इटली में 655, ईरान में 270, जापान में 226, सिंगापुर और हॉन्गकॉन्ग में 93-93, अमेरिका में 60, जर्मनी में 48, कुवैत में 43, थाईलैंड में 41, फ्रांस में 38, ताइवान में 34, बहरीन में 33, स्पेन में 25, ऑस्ट्रेलिया और मलेशिया में 23-23, यूएई में 19, वियतनाम और ब्रिटेन में 16-16, कनाडा में 14, मकाउ में 10, स्विटजरलैंड में 8, स्वीडन में 7, इराक में 7, ओमान में 4, इजरायल में 3, फिलीपींस, क्रोएशिया, ऑस्ट्रिया, ग्रीस में 3-3, फिनलैंड, रूस, लेबनान और पाकिस्तान में 2-2, अफगानिस्तान, नेपाल, लिथुआनिया, कंबोडिया, जॉर्जिया, नॉर्थ आयरलैंड, नाइजीरिया, नार्वे, अलजेरिया, बेल्जियम, सैन मारिनो, नीदरलैंड्स, डेनमार्क, नॉर्थ मेसीडोनिया, बेलारूस, न्यूजीलैंड, ब्राजिल, रोमानिया, एस्टोनिया, मिस्र और श्रीलंका में 1-1 संक्रमित हैं।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *