Delhi Cm Arvind Kejriwal Appeals People And Police To Maintain Peace  – दिल्ली हिंसा पर बोले केजरीवाल- बाहर से आ रहे हैं लोग, पुलिस को एक्शन की खुली इजाजत मिले

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Tue, 25 Feb 2020 12:02 PM IST

ख़बर सुनें

दिल्ली में चल रहे उपद्रव को लेकर विधायकों और अधिकारियों के साथ आपात बैठक के बाद मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मीडिया को संबोधित करते हुए जनता से शांति बनाए रखने की अपील की। उन्होंने कहा कि जो हिंसा हो रही है वह ठीक नहीं है। कल कोई भी इसका शिकार हो सकता है। 

उन्होंने कहा कि अस्पताल और दमकलकर्मी तैयार रहें। दमकल विभाग पुलिस के साथ तालमेल बैठाकर काम करे। उन्होंने कहा कि शिकायत ये भी है कि निचले स्तर पर पुलिस को कोई एक्शन लेने का हक नहीं है। उसके लिए उन्हें ऊपर से ऑर्डर लेना पड़ रहा है, उन्हें एक्शन के लिए इजाजत मिलनी चाहिए।

केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से दिल्ली के कुछ इलाकों में हालात खराब हुए हैं। ये बेहद चिंता का विषय है। मेरी अपील है कि शांति बनाए रखें। हिंसा से सामाधन नहीं निकलने वाला। ना इधर का ना उधर का।

कल एक पुलिसकर्मी की मौत हुई। वो भी अपने लोगों में से थे। आज किसी का हो रहा है कल किसी और का होगा। इसलिए शांति बनाए रखें। बैठक के बारे में उन्होंने कहा कि हिंसा प्रभावित इलाकों के विधायकों के साथ बैठक हुई। सभी का कहना है कि पुलिस की संख्या कम है और उनके पास एक्शन लेने की पॉवर नहीं है।

केजरीवाल ने बताया कि 12 बजे गृह मंत्री के साथ बैठक है। इस मसले पर बात करूंगा। इसके साथ ही उन्होंने मुख्य सचिव को निर्देश दिया कि वह सीपी से बात करें। साथ ही बताया कि दिल्ली के बॉर्डर को सील करने के भी आदेश दिए गए हैं, क्योंकि विधायकों ने बताया है कि बाहर से लोग आ रहे हैं।

केजरीवाल ने निर्देश दिया कि एसडीएम और डीएम प्रभावित इलाकों में मुनादी करवाएं। उन्होंने कहा कि मंदिरों और मस्जिदों से शांति की अपील की जाए। क्षेत्र के विधयक भी पीस मार्च में शामिल हों।
 

दिल्ली में चल रहे उपद्रव को लेकर विधायकों और अधिकारियों के साथ आपात बैठक के बाद मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मीडिया को संबोधित करते हुए जनता से शांति बनाए रखने की अपील की। उन्होंने कहा कि जो हिंसा हो रही है वह ठीक नहीं है। कल कोई भी इसका शिकार हो सकता है। 

उन्होंने कहा कि अस्पताल और दमकलकर्मी तैयार रहें। दमकल विभाग पुलिस के साथ तालमेल बैठाकर काम करे। उन्होंने कहा कि शिकायत ये भी है कि निचले स्तर पर पुलिस को कोई एक्शन लेने का हक नहीं है। उसके लिए उन्हें ऊपर से ऑर्डर लेना पड़ रहा है, उन्हें एक्शन के लिए इजाजत मिलनी चाहिए।

केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से दिल्ली के कुछ इलाकों में हालात खराब हुए हैं। ये बेहद चिंता का विषय है। मेरी अपील है कि शांति बनाए रखें। हिंसा से सामाधन नहीं निकलने वाला। ना इधर का ना उधर का।

कल एक पुलिसकर्मी की मौत हुई। वो भी अपने लोगों में से थे। आज किसी का हो रहा है कल किसी और का होगा। इसलिए शांति बनाए रखें। बैठक के बारे में उन्होंने कहा कि हिंसा प्रभावित इलाकों के विधायकों के साथ बैठक हुई। सभी का कहना है कि पुलिस की संख्या कम है और उनके पास एक्शन लेने की पॉवर नहीं है।

केजरीवाल ने बताया कि 12 बजे गृह मंत्री के साथ बैठक है। इस मसले पर बात करूंगा। इसके साथ ही उन्होंने मुख्य सचिव को निर्देश दिया कि वह सीपी से बात करें। साथ ही बताया कि दिल्ली के बॉर्डर को सील करने के भी आदेश दिए गए हैं, क्योंकि विधायकों ने बताया है कि बाहर से लोग आ रहे हैं।

केजरीवाल ने निर्देश दिया कि एसडीएम और डीएम प्रभावित इलाकों में मुनादी करवाएं। उन्होंने कहा कि मंदिरों और मस्जिदों से शांति की अपील की जाए। क्षेत्र के विधयक भी पीस मार्च में शामिल हों।
 




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *