Delhi News In Hindi : 21 thousand crore defense deal with America possible, India will spend 200 crore in Trump’s hospitality | अमेरिका से 21 हजार करोड़ के रक्षा सौदे संभव, ट्रम्प के सत्कार में भारत 200 करोड़ रु. खर्च करेगा

  • गुजरात में भाषण, ट्रम्प की नजर अमेरिका के भारतीय वोटरों पर
  • ट्रम्प के दौरे में 18,626 करोड़ रु. के सी-हॉक हेलिकाप्टरों का सौदा हो सकता है

मुकेश कौशिक

मुकेश कौशिक

Feb 24, 2020, 09:46 AM IST

नई दिल्ली. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की 36 घंटे की भारत यात्रा अमेरिका और वहां की रिपब्लिकन पार्टी के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है। अमेरिकी रक्षा कंपनियों की नजर बड़े सौदों पर है। सरकारी सूत्रों की मानें, तो ट्रम्प की भारत यात्रा के दौरान भारत-अमेरिका के बीच 21 हजार करोड़ रुपए के रक्षा सौदों पर मुहर लग सकती है। इसमें 18,626 करोड़ रु. का सी-हॉक हेलिकाप्टरों का सौदा प्रमुख है। नौसेना को 24 सी-हॉक हेलिकाप्टरों की जरूरत है। भारत को अमेरिका मिसाइल डिफेंस शील्ड भी बेचने की कोशिश कर रहा है, ताकि वह रूस की एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम को भारत में आने से रोक सके। हालांकि रक्षा सूत्रों का कहना है कि इस पर कोई समझौता नहीं होगा। रूसी समझौते पर भारत कायम रहेगा।

दूसरी ओर भारत ट्रम्प परिवार के स्वागत-सत्कार और सुरक्षा पर 200 करोड़ रुपए खर्च करेगा। इसमें ‘नमस्ते ट्रम्प’ के आयोजन पर 100 करोड़ और बाकी दो चरणों की यात्रा के दौरान सुरक्षा पर 100 करोड़ रुपए का खर्च अनुमानित है। अमेरिका में इसी साल राष्ट्रपति चुनाव हैं। ट्रम्प मोटेरा में करीब 1.10 लाख लोगों  काे संबोधित  करेंगे, पर उनकी नजर अपने देश के 25 लाख भारतीय मूल के वोटरों पर होगी।

व्यापार समझौता दूर, पर भारत को उम्मीद
दोनों देशों में व्यापार समझौते के आसार कम है। अमेरिका ने भारत को जीएसपी की सूची से हटा दिया था। जीएसपी के तहत अमेरिका को भारत 3,000 उत्पाद ड्यूटी फ्री निर्यात कर रहा था। इसमें आभूषण, चावल प्रमुख हैं। भारत चाहता है कि अमेरिका इसे वापस ले। साथ ही स्टील पर भी 25% शुल्क वृद्धि वापस हो। भारत उसे 5,391 करोड़ रुपए का स्टील निर्यात करता था। शुल्क बढ़ने से यह आधा हो गया है। अमेरिका डेयरी उत्पाद भी भारत में बेचना चाहता है, लेकिन अमेरिका में गायों को मांसाहारी चारा खिलाया जाता है, इसलिए भारत को इस पर आपत्ति है।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *