Five-time Grand Slam champion Maria Sharapova announced retirement | पांच बार की ग्रैंड स्लैम चैंपियन मारिया शारापोवा ने संन्यास लिया, वर्ल्ड रैंकिंग में 21 हफ्ते नंबर वन रहीं

  • 32 साल की शारापोवा चोट के चलते लंबे समय से टेनिस कोर्ट से दूर थीं
  • ड्रग्स लेने की दोषी पाए जाने पर शारापोवा पर 15 माह का प्रतिबंध भी लगा था
  • शारापोवा ने संन्यास के ऐलान के बाद कहा- टेनिस के बिना अब मैं कैसे जी पाऊंगी

Dainik Bhaskar

Feb 26, 2020, 10:22 PM IST

खेल डेस्क. टेनिस में पांच बार की ग्रैंड स्लैम चैंपियन मारिया शारापोवा ने बुधवार को टेनिस से संन्यास का ऐलान किया। उन्होंने एक इमोशनल पोस्ट में लिखा, ‘जो हमेशा से तुम्हारी जिंदगी थी, अब उसके बगैर कैसे रह पाओगी? उस टेनिस कोर्ट से कैसे दूर रहोगी, जहां तुमने प्रशिक्षण हासिल किया था। 28 साल से जिस खेल ने तुम्हे एक नया परिवार दिया, खुशियां दीं, शोहरत दी, अब कैसे उससे दूर रहोगी? मैं इसके लिए नई हूं। मुझे माफ करना। अलविदा टेनिस। दरअसल, मारिया 17 साल की उम्र में उस वक्त पूरी दुनिया में स्टार बन गई थीं, जब उन्होंने 2004 में विम्बल्डन चैंपियनशिप में दुनिया की नंबर-1 खिलाड़ी सेरेना विलियम्स को हराकर चैंपियनशिप अपने नाम कर ली थी। इसके बाद मारिया 21वीं सदी की सबसे अमीर खिलाड़ी बनीं। 

ड्रग्स के इस्तेमाल की दोषी पाई गई थीं
शारापोवा को 2016 ऑस्ट्रेलियन ओपन के दौरान प्रतिबंधित ड्रग्स मेल्डोनियम का इस्तेमाल करने का दोषी पाया गया था। इसके बाद अंतर्राष्ट्रीय टेनिस संघ ने शारापोवा पर प्रतिबंध लगा दिया था। 15 महीने के प्रतिबंध के बाद अप्रैल 2017 में उनकी वापसी हुई थी। हालांकि, प्रतिबंध के बाद शारापोवा की वापसी कमजोर रही। 2003 से 2017 के बीच लगातार कम से कम एक सिंगल्स टाइटल जीतने का रिकार्ड भी शारापोवा के नाम है। 

14 साल की उम्र से टेनिस खेलना शुरू किया था
शारापोवा ने अपनी बायोग्राफी में खुद से जुड़ी कई रोचक कहानियां साझा की हैं। 14 साल की उम्र में उन्होंने टेनिस खेलना शुरू किया था। कंधे में चोट की वजह से फरवरी 2019 से वह कोर्ट से दूर थीं। 28 साल के कॅरियर में शारापोवा को कई बार चोट के चलते टेनिस कोर्ट से बाहर रहना पड़ा। उन्होंने यह भी लिखा कि ऑस्ट्रेलियन ओपन के बाद जब उनकी रैंक 373 पर पहुंच गई, तभी उन्होंने संन्यास लेने का फैसला लिया था। 

21 हफ्ते पहली रैंक पर रहीं शारापोवा

शारापोवा पहली खिलाड़ी हैं, जिन्होंने 5 बार ग्रैंड स्लैम चैंपियनशिप जीती। इनमें 2006 में यूएस ओपन, 2008 में ऑस्ट्रेलियन ओपन, 2012 और 2014 में फ्रेंच ओपन शामिल हैं। 2012 ओलंपिक में उन्होंने सिल्वर मेडल जीता था। 36 अन्य टूर सिंगल्स टाइटल, रूस में 2008 में हुआ फेड कप टाइटल भी उनके नाम दर्ज है। पहली बार 2005 में उन्होंने पहली रैंक हासिल की थी। इसके बाद 21 हफ्ते तक पहली रैंक पर रहने का रिकॉर्ड भी उनके नाम है।सिंगल्स में 3 फरवरी को जारी रैंकिंग में शारापोवा 369वें स्थान पर हैं।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *