Foreign Media Coverage Of American President Donald Trump India Visit – विदेशी मीडिया में ट्रंप की भारत यात्रा, मोदी को बताया अमेरिकी राष्ट्रपति से बड़ा राष्ट्रवादी नेता

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला
Updated Wed, 26 Feb 2020 04:52 AM IST

भारत यात्रा के दौरान डोनाल्ड ट्रंप और नरेंद्र मोदी

भारत यात्रा के दौरान डोनाल्ड ट्रंप और नरेंद्र मोदी
– फोटो : एएनआई

ख़बर सुनें

विदेशी मीडिया में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के भारत दौरे को विस्तृत जगह दी गई। ऑनलाइन संस्करणों में जहां अधिकतर समाचार समूह ने लाइव कवरेज दी। यात्रा के पहले दिन हुए स्वागत और नमस्ते ट्रंप आयोजन में भाषण और दूसरे दिन ट्रंप और प्रधानमंत्री मोदी की बातचीत, रक्षा समझौता व ट्रंप की प्रेस वार्ता को प्रमुखता से कवर किया गया।

न्यूयॉर्क टाइम्स : भारत से कारोबारी डील न करने पर नाराजगी जताई

कारोबारी डील न कर पाने पर ट्रंप पर नाराजगी जताते हुए न्यूयॉर्क टाइम्स ने लिखा कि ट्रंप ने भारत के साथ कारोबारी समझौते में प्रगति होने की बात कही है, इसे वे मील का पत्थर बता रहे हैं, लेकिन कोई ऐसी घोषणा नहीं कर सके जो इसे साबित करे। बल्कि यात्रा के आखिरी दिन उन्हाेंने भारत के ऊंचे आयात शुल्क पर शिकायत दर्ज करवाई।

सीएनएन : मोदी ने भारी भीड़ का वादा पूरा किया

मोदी को ट्रंप से बड़ा राष्ट्रवादी बताते हुए सीएनएन ने लिखा कि ट्रंप को भीड़ का वादा किया गया था, जो देखने को मिली। ट्रंप द्वारा सचिन को सुचिन और विराट कोहली को विरोट कोली के रूप में उच्चारित करने का भी उल्लेख किया गया।

वॉशिंगटन पोस्ट : …तब हिंदू-मुस्लिम हिंसा में सुलग रही थी राजधानी दिल्ली

वॉशिंगटन पोस्ट ने लाइव अपडेट में ट्रंप की भारत यात्रा को सबसे पहले रखा और विस्तृत कवरेज दिया। मोदी-ट्रंप की मंगलवार को हुई वार्ता को दिल्ली में हुई हिंसा से जोड़ते हुए लिखा कि जब ट्रंप कारोबारी व राजनीतिक नेताओं से मिल रहे थे, देश की राजधानी के कुछ हिस्से हिंदू-मुस्लिम हिंसा में सुलग रहे थे। दोनों देशों में कारोबारी डील को अभी हाथ न आने वाली बताया। ट्रंप द्वारा अकेले प्रेसवार्ता करने पर कहा कि मोदी मीडिया से स्वतंत्र रूप से बात करने से बचते रहे हैं।

ग्लोबल टाइम्स : ट्रंप भारत के साथ समझौता कर चीन को रोकने की उम्मीद कर रहे हैं

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने मंगलवार को लिखा कि ट्रंप का दौरान भारत-अमेरिका के कारोबारी मतभेदों को सुलझाने में ज्यादा मदद नहीं करेगा। यह विवाद लंबे समय से हैं, तुरंत समाधान नहीं निकलेगा। भारत सरकार अगर ट्रंप की कुछ शर्तें मानती है तो उस पर कड़ा घरेलू दबाव होगा। वैसे भी मोदी सरकार घरेलू उद्यमियों-किसानों के हित के लिए ज्यादा कटिबद्ध है। दक्षिण एशिया मामलों के विशेषज्ञ लान जियांक्सू के हवाले से कहा कि ट्रंप भारत के साथ समझौता कर चीन को रोकने की उम्मीद कर रहे हैं और भारतीय-अमेरीकियों को आकर्षित कर रहे हैं।

पाकिस्तानी मीडिया : अच्छे रिश्ते बताने से ही हुआ खुश

ट्रंप ने भारत में फैलाए जा रहे इस्लामी आतंकवादी पर जमकर प्रहार किए, लेकिन पाकिस्तानी मीडिया ने इसे महत्व न देकर अपने से अच्छे संबंध पर कही एक लाइन को जमकर उछाला। डॉन ने लिखा कि भारत में ट्रंप ने पाकिस्तान की तारीफ की, और संबंध अच्छे होने की बात कही। आखिर में नाराज लहजे में लिखा कि गुजरात दंगों के बावजूद ट्रंप मोदी को ‘बेहद सफल राजनेता’ करार देते हैं।




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *