IBM AI Suitcase | IBM AI Suitcase Helps Visually Challenged People Travel Independently know updates, Specifications and Features | दृष्टिबाधित लोगों का गाइड बनेगा स्मार्ट सूटकेस, रास्ते में आने वाले कैफे-रेस्टोरेंट और बाधाओं के बारे में बोलकर बताएगा

Dainik Bhaskar

Feb 25, 2020, 06:44 PM IST

गैजेट डेस्क. दिग्गज टेक कंपनी आईबीएम ने चार अन्य कंपनियों के साथ मिलकर प्रोटोटाइप सूटकेस तैयार किया है। इसकी खासियत यह है कि यह आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस तकनीक पर बेस्ड है। कंपनी का दावा है कि यह दृष्टिबाधित लोगों को रास्ते पर चलते समय गाइड करेगा। कंपनी ने स्मार्ट सूटकेस तैयार करने के लिए अल्प अल्पाइन, मिस्तुबिशी, ओमरॉन और शिमीजू जैसी कंपनियों के साथ साझेदारी की है। इसके सूटकेस के पीछे आईबीएम की फैलो हाइको असाकावा का आइडिशन था जो खुद भी दृष्टिबाधित है। यह सूटकेस न सिर्फ दृष्टिबाधित लोगों को रास्ता बताएगा बल्कि कैमरे और सेंसर की मदद से रास्ते में आने वाली बाधाओं के बारे में बोलकर बताएगा।

सूटकेस के हैंडल में वाइब्रेशन देकर करेगा अलर्ट

  1. एआई टेक्नोलॉजी पर बेस्ड स्मार्ट सूटकेस यूजर की वर्तमान लोकेशन और मैप डेटा को स्कैन करेगा ताकि डेस्टिनेशन तक पहुंचने के लिए सही रास्ता ढूंढा जा सके। यह बोलकर और सूटकेस के हैंडल में वाइब्रेशन देकर यूजर को गाइड करेगा। इसमें ऑडियो सिस्टम भी है, जिसकी बदौलत ये रास्ते में आने वाले कैफे और दुकानों के बारे में यूजर को बोलकर बताता है।

  2. नेक्स्ट वेब की रिपोर्ट के मुताबिक, यह सूटकेस वीडियो कैमरा और डिस्टेंस सेंसर के जरिए डेटा एनालाइज कर रास्ते में आने वाली बाधाओं के बारे दृष्टिबाधित व्यक्ति को अलर्ट करता है। नेक्स्ट वेब ने अपनी ग्लोबल हेल्थ स्टडी रिपोर्ट में यह जानकारी दी कि 2050 में दृष्टिबाधित लोगों की संख्या 11.5 करोड़ तक पहुंच सकती है।

  3. जापान के एक अखबार को इंटरव्यू देते हुए असाकावा ने बताया कि उन्हें यह आइडिया तब आया जब वे एक बिजनेस ट्रिप के दौरान सूटकेस खींच रही थी। उन्होंने बताया कि दृष्टिबाधित व्यक्ति के लिए शहर में स्वतंत्र और सुरक्षित सफर करना काफी मुश्किल होता है। लेकिन मैने इस नामुमकिन काम को मुमकिन बना दिया है।

  4. यह सूटकेस आईबीएम द्वारा बनाया जा रहा है। अल्प अल्पाइन इसमें हैप्टिक टेक्नोलॉजी का काम कर रही है, ओमरॉन कंपनी इसमें इमेज रिकॉग्निशन और सेंसर उपलब्ध करा रही है, शिमिजू इसके नेविगेशन सिस्टम पर काम कर रही है वहीं इसके ऑटोमोटिव टेक्नोलॉजी को बेहतर बनाने की जिम्मेदारी मिस्तुबिशी पर है। सभी को उम्मीद है कि ये एआई सूटकेस दृष्टिबाधित व्यक्ति को आत्मनिर्भर बनाएगा।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *