Income Tax Raid In Raipur Cm Bhupesh Baghel Aide Azaz Dhebar And Ias Officer Anil Tuteja – Income Tax Raid: छत्तीसगढ़ सीएम के नजदीकी नौकरशाह और रायपुर महापौर के घर आयकर छापा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, रायपुर
Updated Thu, 27 Feb 2020 12:56 PM IST

आयकर विभाग की छापेमारी: रायपुर मेयर एजाज ढेबर (फाइल फोटो)
– फोटो : nagarnigamraipur.nic.in

ख़बर सुनें

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में गुरुवार सुबह आयकर विभाग की टीम ने बड़ी कार्रवाई की है। विभाग की टीम ने रायपुर के महापौर ढेबर, उनके भाई अनवर ढेबर सहित पूर्व प्रमुख सचिव और रेरा चेयरमैन विवेक ढांढ, आईएएस अधिकारी अनिल टुटेजा की पत्नी मीनाक्षी टुटेजा सहित अन्य अधिकारियों और कारोबारियों के ठिकानों पर छापा मारा है। महापौर के होटलों पर भी कार्यवाही की जा रही है। 

विभाग सभी जगहों से आय व्यय का लेखा-जोखा जुटा रही है। टीम को यहां बड़ी टैक्स चोरी की आशंका है। कार्रवाई में 200 से ज्यादा सीआरपीएफ के जवान शामिल हैं। रायपुर के महापौर एजाज ढेबर को प्रदेश मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का करीबी माना जाता है। विभाग की टीम रायपुर में संचालित ढेबर के होटल सहित प्लाजा में जांच करने के लिए पहुंची है।

ढेबर के कारोबार से संबंधित दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार महापौर एजाज के छह से ज्यादा ठिकानों के अलावा लगभग एक दर्जन स्थानों पर कार्रवाई की जा रही है। आयकर की केंद्र टीम जांच कर रही है। वहीं आईएएस अधिकारी अनिल टुटेजा, शराब कारोबारी पप्पू भाटिया, गुरुचरण सिंह होरा, पप्पू फरिश्ता, संजय संचेती और सीए कमलेश्वर जैन के ठिकानों पर भी आयकर की जांच चल रही है।

आईएएस टुटेजा भी मुख्यमंत्री बघेल के करीबी माने जाते हैं। उनकी शिकायत पर ही चर्चित नागरिक आपूर्ति निगम घोटाला मामले में छत्तीसगढ़ सरकार ने नए सिरे से जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है। पिछले 15 दिनों से आयकर की अलग-अलग टीम राज्य में जगह-जगह छापे मार रही हैं। आयकर विभाग को दवाई कारोबारी लक्ष्मी मेडिकल ने 7.50 करोड़ रुपए सरेंडर किए हैं।

विभाग की टीम ने चार दिन पहले लक्ष्मी मेडिकल के कई ठिकानों पर छापे मारे थे और कई सालों के रिकॉड खंगाले थे। तीन दिन तक चली कार्रवाई में करोड़ों की अघोषित संपत्ति का ब्यौरा मिला था। जांच के दौरान मुनाफे को कम दिखाने, कैश में ज्यादा कारोबार करने और बोगस खर्चें दिखाने की बात सामने आई थी।

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में गुरुवार सुबह आयकर विभाग की टीम ने बड़ी कार्रवाई की है। विभाग की टीम ने रायपुर के महापौर ढेबर, उनके भाई अनवर ढेबर सहित पूर्व प्रमुख सचिव और रेरा चेयरमैन विवेक ढांढ, आईएएस अधिकारी अनिल टुटेजा की पत्नी मीनाक्षी टुटेजा सहित अन्य अधिकारियों और कारोबारियों के ठिकानों पर छापा मारा है। महापौर के होटलों पर भी कार्यवाही की जा रही है। 

विभाग सभी जगहों से आय व्यय का लेखा-जोखा जुटा रही है। टीम को यहां बड़ी टैक्स चोरी की आशंका है। कार्रवाई में 200 से ज्यादा सीआरपीएफ के जवान शामिल हैं। रायपुर के महापौर एजाज ढेबर को प्रदेश मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का करीबी माना जाता है। विभाग की टीम रायपुर में संचालित ढेबर के होटल सहित प्लाजा में जांच करने के लिए पहुंची है।

ढेबर के कारोबार से संबंधित दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार महापौर एजाज के छह से ज्यादा ठिकानों के अलावा लगभग एक दर्जन स्थानों पर कार्रवाई की जा रही है। आयकर की केंद्र टीम जांच कर रही है। वहीं आईएएस अधिकारी अनिल टुटेजा, शराब कारोबारी पप्पू भाटिया, गुरुचरण सिंह होरा, पप्पू फरिश्ता, संजय संचेती और सीए कमलेश्वर जैन के ठिकानों पर भी आयकर की जांच चल रही है।

आईएएस टुटेजा भी मुख्यमंत्री बघेल के करीबी माने जाते हैं। उनकी शिकायत पर ही चर्चित नागरिक आपूर्ति निगम घोटाला मामले में छत्तीसगढ़ सरकार ने नए सिरे से जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है। पिछले 15 दिनों से आयकर की अलग-अलग टीम राज्य में जगह-जगह छापे मार रही हैं। आयकर विभाग को दवाई कारोबारी लक्ष्मी मेडिकल ने 7.50 करोड़ रुपए सरेंडर किए हैं।

विभाग की टीम ने चार दिन पहले लक्ष्मी मेडिकल के कई ठिकानों पर छापे मारे थे और कई सालों के रिकॉड खंगाले थे। तीन दिन तक चली कार्रवाई में करोड़ों की अघोषित संपत्ति का ब्यौरा मिला था। जांच के दौरान मुनाफे को कम दिखाने, कैश में ज्यादा कारोबार करने और बोगस खर्चें दिखाने की बात सामने आई थी।




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *