Kapil Dev said – If players feel tired, then get out of IPL, playing for the country is more important | कपिल देव बोले- प्लेयर अगर थकान महसूस करते हैं तो आईपीएल से हट जाएं, देश के लिए खेलना ज्यादा जरूरी

  • इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल 2020 अगले महीने 29 तारीख से शुरू हो रहा है
  • कपिल देव की कप्तानी में ही भारत ने पहली बार 1983 में विश्व कप जीता था

Dainik Bhaskar

Feb 28, 2020, 07:59 AM IST

खेल डेस्क. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान कपिल देव ने कहा है कि अगर खिलाड़ी ज्यादा थकान महसूस कर रहे हैं तो उन्हें आईपीएल नहीं खेलना चाहिए। कपिल के मुताबिक, देश के लिए खेलना ज्यादा जरूरी है। इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल का 13वां सीजन 29 मार्च से शुरू हो रहा है। इस पूर्व कप्तान ने माना कि इस दौर में प्लेयर्स को बहुत ज्यादा खेलना पड़ रहा है। इंटरनेशनल शेड्यूल भी काफी बिजी होता है।

 

इंटरनेशनल क्रिकेट से दूर न हों
गुरुवार को एक कार्यक्रम के दौरान कपिल ने खिलाड़ियों के बिजी शेड्यूल और थकान को लेकर चिंता जाहिर की। कहा, “अगर आपको (प्लेयर्स को) लगता है कि थकान बहुत ज्यादा हो गई है तो फिर आईपीएल खेलने से बचें। क्योंकि, वहां आप देश का प्रतिनिधित्व नहीं कर रहे होते। मैं मानता हूं कि आईपीएल से प्लेयर चर्चा में आ जाते हैं। मैं नहीं चाहता कि किसी को आर्थिक हानि हो। मैं सिर्फ इतना कहना चाहता हूं कि देश के लिए अलग बात है। इसका अनुभव ही अलग होता है। फ्रेंचाइजी या क्लब के लिए खेलना अलग बात है।” कपिल ने ये भी माना कि अपने करियर के दौरान उन्हें भी कई बार थकान महसूस होती थी।  

विराट ने भी उठाए थे सवाल
पिछले आईपीएल सीजन के दौरान भी खिलाड़ियों का थकान मुद्दा उठा था। एक महीने पहले जब टीम इंडिया न्यूजीलैंड रवाना हुई थी। इसके ठीक पहले उसने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होम सीरीज खेली थी। तब विराट कोहली ने भी इतने बिजी शेड्यूल को लेकर न सिर्फ चिंता जाहिर की थी बल्कि सवाल भी उठाए थे। टीम इंडिया के कप्तान ने ये भी कहा था कि लंबे सफर और समय में अंतर की वजह से किसी दूसरे देश में जाकर खुद को हालात के मुताबिक ढालना आसान नहीं होता। कोहली ने उम्मीद जताई थी कि भविष्य में इन बातों पर विचार जरूर किया जाएगा। टीम इंडिया को न्यूजीलैंड में तीनों फॉर्मेट खेलना था। टी-20 और वनडे हो चुके हैं। एक टेस्ट टीम इंडिया हार चुकी है। दूसरा और अंतिम टेस्ट 29 फरवरी से खेला जाएगा।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *