PCB Asks Umar Akmal to Return Payment for Psl 2020 Who is Suspended Due to Match Fixing Allegations | मैच फिक्सिंग के आरोपी उमर अकमल से पीसीबी ने पीएसएल का एडवांस चेक लौटाने को कहा, जांच जारी

  • उमर अकमल पर 22 फरवरी से शुरु हुए पीएसएल के ठीक पहले मैच फिक्सिंग के आरोप लगे
  • पीसीबी ने उमर से कहा है कि वे एडवांस पेमेंट का चेक जल्द से जल्द पीसीबी को वापस करें

Dainik Bhaskar

Feb 28, 2020, 03:09 PM IST

खेल डेस्क. मैच और स्पॉट फिक्सिंग के आरोपी पाकिस्तान के मिडल ऑर्डर बल्लेबाज उमर अकमल को एक और झटका लगा है। पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) से बाहर होने के बाद अब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने उनसे एडवांस पेमेंट चेक फौरन लौटाने को कहा है। पीएसएल 22 फरवरी को शुरू हुआ था। आरोप है कि उमर बुकीज के संपर्क में थे। पीसीबी ने इस बल्लेबाज के किसी भी क्रिकेट एक्टिविटी में हिस्सा लेने पर रोक लगाते हुए उन्हें सस्पेंड कर दिया है। 

उमर के खिलाफ जांच जारी
न्यूज एजेंसी के मुताबिक, उमर के खिलाफ पीसीबी की एंटी करप्शन यूनिट जांच कर रही है। पीएसएल में उमर क्वेटा ग्लेडिएटर्स की तरफ से खेलते हैं। नियमों के मुताबिक, लीग में हिस्सा लेने वाले हर खिलाड़ी को टोटल कॉन्ट्रेक्ट अमाउंट की 70 फीसदी रकम एडवांस चेक के तौर पर दी जाती है। बाकी 30 फीसदी पैसा टूर्नामेंट खत्म होने के बाद दिया जाता है। उमर से एडवांस में दिए गए 70 फीसदी अमाउंट का चेक वापस करने को कहा गया है। ये चेक पीसीबी ही जारी करती है। उमर की जगह क्वेटा की टीम ने ऑलराउंडर अनवर अली को टीम में शामिल किया है।  

टेप किए गए थे उमर के फोन
‘जियो न्यूज’ ने उमर को सस्पेंड किए जाने की वजह का खुलासा सूत्रों के हवाले से किया। पीसीबी ने औपचारिक तौर पर कोई जानकारी नहीं दी। रिपोर्ट के मुताबिक, पीसीबी की एंटी करप्शन यूनिट कई दिनों से उमर पर नजर रख रही थी। वो पीएसएल शुरू होने के पहले बुकीज के संपर्क में थे। उन्होंने लगातार चार दिन तक बुकीज से लंबी बातचीत की। पीसीबी ने यह बातचीत रिकॉर्ड कर ली। जब अकमल ने खुद पीसीबी को इसकी जानकारी नहीं दी तो कार्रवाई का फैसला लिया गया।

आधी रात को फैसला
रिपोर्ट के मुताबिक, पीसीबी चीफ एहसान मनी, सीईओ वसीम खान और क्वेटा ग्लेडिएटर्स के मालिक नदीम खान कराची 20 फरवरी की रात 10 बजे कराची के एक होटल में मिले। पहले इन्होंने आपस में बातचीत की। इसके बाद उमर को वहीं बुलाया गया। उमर ने पहले तो आरोपों से इनकार किया लेकिन जब पीसीबी ने उन्हें सबूत दिखाए तो वे सफाई नहीं दे सके। रात करीब 4 बजे पीसीबी ने उमर को सस्पेंड करने का फैसला किया। क्वेटा ग्लेडिएटर्स के कोच मोईन खान से कहा गया कि वो उमर की जगह किसी दूसरे प्लेयर को खिलाएं। इतना ही नहीं उमर अकमल के दोनों फोन भी पीसीबी ने अपने कब्जे में ले लिए। एक अन्य मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि उमर ने पहले मैच में स्पॉट फिक्सिंग की तैयारी कर ली थी। इसके लिए बुकीज से उनकी डील भी हो चुकी थी। 


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *