Second edition of Critics’ Choice Film Awards announced, awards to be given on March 14 | क्रिटिक्स च्वाइस फिल्म अवार्ड्स के दूसरे संस्करण की घोषणा हुई,14 मार्च को दिए जाएंगे अवॉर्ड

Dainik Bhaskar

Feb 17, 2020, 05:54 PM IST

बॉलीवुड डेस्क.  फिल्म क्रिटिक्स गिल्ड ने हाल ही में अपने क्रिटिक्स चॉइस फिल्म अवार्ड्स के आगामी संस्करण की घोषणा की। वरिष्ठ पत्रकार और फिल्म समीक्षक ने वीडियो के ज़रिये इस अवॉर्ड के आगामी संस्करण को लेकर अपनी खुशी को ज़ाहिर किया। अवॉर्ड समारोह 14 मार्च को आयोजित किया जाएगा।
 

पिछले साल क्रिटिक्स चॉइस शॉर्ट फिल्म अवार्ड्स, क्रिटिक्स चॉइस शॉर्ट्स एंड सीरीज़ अवार्ड्स और क्रिटिक्स च्वाइस फ़िल्म अवार्ड्स के दो संस्करणों की सफलता के बाद, विस्टा मीडिया कैपिटल के सहयोग से फ़िल्म क्रिटिक्स गिल्ड और मोशन कंटेंट ग्रुप एक बार फिर दूसरे संस्करण के लिए एक साथ नज़र आएंगे,यह अवार्ड न केवल हिंदी फीचर फिल्म्स को सम्मानित करेगा, बल्कि भारत के राज्यों में फैली भाषाओं की सिनेमाई चमक को भी दर्शायेगा।  

वरिष्ठ पत्रकार,फिल्म समीक्षक अनुपमा चोपड़ा ने कहा,  “हम एक बार फिर क्रिटिक्स चॉइस फिल्म अवार्ड्स के दूसरे संस्करण के साथ वापसी कर रहे है जहां पर हम इंडियन फीचर फिल्म्स के स्टोरीटेलिंग और टैलेंट को मान्यता देते हैं। पिछली बार की तरह इस बार भी हम हिंदी सिनेमा तक सीमित नहीं रहेंगे, इसलिए गिल्ड आठ भाषाओं में सिनेमा को पुरस्कृत करेंगे। ” 

विस्टा मीडिया कैपिटल के सीईओ अभय आनंद सिंह ने कहा,” बतौर कंटेंट  प्रोडूसर हम CCSA के महत्व को समझते हैं जो खुद को विश्वसनीयता और प्रयोजन के आधार पर अलग साबित करते हैं। इस साल हम कई भाषाओ की फिल्म दिखाएंगे और साथ ही बेहतरीन प्रतिभाओ को सम्मानित करने के लिए उत्सुक हैं। 

मोशन कंटेंट ग्रुप के बिजनेस हेड, सुदीप सान्याल कहते हैं, ”हम हमेशा से प्रयास करते हैं कि भाषाओ में सर्वोच्च फीचर फिल्म को सन्मानित करें। मोशन कंटेंट इंडिया कंटेंट स्पेस में विश्वसनीयता लाने में विश्वास करता है और क्रिटिक्स च्वाइस अवार्ड्स उसी के लिए एक प्रयास है।”

पिछले साल तमिल में ‘पेरियेरुम पेरुमल’, मलयालम में ‘ई.मा.वाय.वाय’, गुजराती में ‘रेवा’, तेलुगु में ‘C / o कंचनपालम’, मराठी में ‘लट्ठे जोशी’, कन्नड़ में ‘ओंडला एराडल्ला’ और बंगाल में ‘पुपा’, जैसी फिल्मों को सम्मानित किया गया था। सभी इस अवार्ड्स को लेकर बहुत उत्साहित हैं।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *