Shahrukh Khan does not want to take the risk of flop rajkumar hirani will direct Jahaji | फ्लॉप होने का रिस्क नहीं लेना चाहते शाहरुख, राजू हिरानी से ही डायरेक्ट कराएंगे ‘जहाजी’

Dainik Bhaskar

Feb 27, 2020, 11:09 AM IST

बॉलीवुड डेस्क. शाहरुख खान बतौर एक्टर भले अपनी अपकमिंग फिल्म ‘जहाजी’ अनाउंस करने में वक्त ले रहे हैं, लेकिन ये तय है कि वे इसे राजकुमार हिरानी से ही डायरेक्ट करवाएंगे। 19 जनवरी को दैनिक भास्कर ने इस बाबत खुलासा किया था। यह खबर अब और पुख्ता होती जा रही है। ट्रेड पंडितों से लेकर शाहरुख के करीबियों तक में ‘जहाजी’ को लेकर बातें चल रही हैं।

हिरानी से ही फिल्म डायरेक्ट करवाने के पीछे वजह यह बताई जा रही है कि शाहरुख अब किसी तरह का कोई जोखिम नहीं लेना चाहते। वे एक ऐसी फिल्म चाहते हैं, जिसकी सफलता की संभावना प्रबल रहे। हिरानी का इस मामले में ट्रैक रिकॉर्ड 100 फीसदी रहा है। लिहाजा उनके नाम पर मुहर लगवाने की कोशिश हो रही है। हिरानी के साथ काम करने के बाद शाहरुख बाकी डायरेक्टर्स संग भी काम करेंगे। उनके पास अली अब्बास जफर, साउथ के एटली, राज और डीके समेत 20 से ज्यादा डायरेक्टर्स की स्क्रिप्ट्स हैं।

‘जहाजी’ 220 साल पुरानी कहानी है। इसमें दिखाया जाएगा कि कैसे गरीबी, लाचारी, बेरोजगारी से त्रस्त भारतीयों को एग्रीमेंट पर काम दिलवाले के बहाने अपने देश से दूर अनजान देशों में भेज दिया था। शाहरुख फेस्टिवल्स में अच्छा करने वाली फिल्मों की मार्केटिंग और डिस्ट्रीब्यूशन करेंगे। बतौर प्रोड्यूसर उनका विजन क्लियर है। उनके बैनर ने फिल्म ‘कामयाब’ को प्रोड्यूस किया है। उस तरह की बाकी फिल्मों को भी वे प्रोड्यूस करेंगे। इसकी पुष्टि रेड चिलीज एंटरटेनमेंट के प्रमुख गौरव वर्मा ने की है।

प्रोड्यूसर लेवल पर भी अधिक एक्टिव हुए किंग खान : ‘कामयाब’ के निर्देशक हार्दिक मेहता ने हम पर ट्रस्ट किया। इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए हमने एक स्ट्रैटेजी बनाई है। जो फिल्में खासतौर पर फेस्टिवल सर्किट में बहुत अच्छा कर रही हैं, उन्हें मार्केटिंग और डिस्ट्रीब्यूशन सपोर्ट दिया जाएगा। इस तरह की फिल्मों के लिए हजार या दो हजार के भारी भरकम स्क्रीन पर रिलीज करने से ज्यादा हमारा फोकस इसको लेकर लोगों में जागरूकता जगानी है। हम ‘कामयाब’ को एग्जीबिटर्स की राय लेकर 150 सिनेमाघरों में रिलीज कर रहे हैं। डिजिटल राइट्स भी डील पर इस वक्त बोलना प्रीमैच्योर होगा। अभी तो फोकस थिएटरों में इसको लेकर माहौल बनाना है।

फेस्टिवल सर्किट में अच्छा करने वाली फिल्मों पर फोकस : गौरव ने इस बारे में बताया… ‘कंपनी में कंटेंट वाली फिल्मों को लेकर बदलाव की बयार का आगाज तीन साल पहले ‘इत्तेफाक’ से ही हो चुका है। अगर कहानी रोचक और रोमांचक है तो हम किसी भी बजट की फिल्मों को प्रोड्यूस और डिस्ट्रीब्यूट करने को राजी हैं। ‘कामयाब’ के लिए इसके प्राइमरी प्रोड्यूसर मनीष मुंद्रा ने हमें ट्वीटर पर संपर्क किया था। बतौर प्रोड्यूसर उनकी साख बहुत अच्छी है।

गौरव आगे बताते हैं…‘हम लकी हैं जो मनीष और अब किसी तरह का कोई जोखिम नहीं लेना चाहते। वे एक ऐसी फिल्म चाहते हैं, जिसकी सफलता की संभावना प्रबल रहे। हिरानी का इस मामले में ट्रैक रिकॉर्ड 100 फीसदी रहा है। लिहाजा उनके नाम पर मुहर लगवाने की कोशिश हो रही है। हिरानी के साथ काम करने के बाद शाहरुख बाकी डायरेक्टर्स संग भी काम करेंगे। उनके पास अली अब्बास जफर, साउथ के एटली, राज और डीके समेत 20 से ज्यादा डायरेक्टर्स की स्क्रिप्ट्स हैं। ‘जहाजी’ 220 साल पुरानी कहानी है। इसमें दिखाया जाएगा कि कैसे गरीबी, लाचारी, बेरोजगारी से त्रस्त भारतीयों को एग्रीमेंट पर काम दिलवाले के बहाने अपने देश से दूर अनजान देशों में भेज दिया था।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *