Tech auto News In Hindi : Toyota Vellfire Price | Mercedes-Benz V-Class Vs Toyota Vellfire Comparison: Compare Price, Specifications, Features and Interior Exterior | टोयोटा वेलफायर या मर्सिडीज वी क्लास: एक जैसे सेगमेंट की दोनों गाड़ियां, लेकिन ज्यादा बेहतर कौन?

  • ऑटो एक्सपर्ट आशीष मसीह दोनों गाड़ियों का रिव्यू कर चुके हैं, उन्होंने भी इनको लेकर अपनी राय दी

Dainik Bhaskar

Feb 27, 2020, 05:56 PM IST

ऑटो डेस्क. टोयोटा ने अपनी मल्टी पर्पज व्हीकल (MPV) वेलफायर भारतीय बाजार में उतार दी है। इसका मुकाबला मर्सिडीज-बेंज की V क्लास एमपीवी से हो सकता है। दोनों गाड़ियां एक जैसे सेगमेंट की हैं। इंटीरियर से लेकर स्पेसिफिकेशन तक इनमें कई समानताएं हैं। वहीं, दोनों गाड़ियों के कुछ फीचर्स इन्हें एक-दूसरे से अलग भी बनाते हैं। वेलफायर की एक्स-शोरूम कीमत 79.5 लाख रुपए है। वहीं, मर्सिडीज वी क्लास के 6 सीटर मॉडल की एक्स-शोरूम कीमत 85 लाख रुपए है। हम यहां दोनों गाड़ियों के एक्सटीरियर, इंटीरियर और स्पेसिफिकेशन का कम्पेरिजन कर रहे हैं।

डायमेंशन वेलफायर वी-क्लास
लंबाई 4935mm 5140mm
चौड़ाई 1850mm 1928mm
ऊंचाई 1895mm 1880mm
व्हीलबेस 3000mm 3200mm
फ्यूल टैंक 58L 57L

दोनों गाड़ियों को एक साथ देखा जाए तो इनमें किसकी लंबाई और चौड़ाई ज्यादा है, इसका अंदाजा लगाना मुश्किल हो जाता है। क्योंकि वेलफायर की तुलना में वी-क्लास की लंबाई 205mm (करीब 8 इंच) और चौड़ाई 78mm (करीब 3 इंच) ज्यादा है। वी-क्लास का व्हीलबेस भी 200mm (करीब 8 इंच) ज्यादा है।

इंजन वेलफायर वी-क्लास
इंजन 2494cc 2143cc
पावर 180bhp 165bhp
टॉर्क 235Nm 500Nm
गियरबॉक्स CVT 7G ट्रोनिक प्लस
टॉप स्पीड 170kmph 195kmph

टोयोटा वेलफायर: इसमें 2494cc का पेट्रोल इंजन है। यह इंजन 4700 rpm पर 86 bhp का पावर और 2800 से 4000 rpm पर 198 Nm पीक टॉर्क जेनरेट करता है। इसमें इंजन के साथ 105kW और 50kW के दो इलेक्ट्रिक मोटर दी हैं। यानी ये गाड़ी पेट्रोल और बैटरी दोनों के साथ चलती है। इसमें फोर व्हील ड्राइव मिलती है। इसका हाइब्रिड इंजन e-CVT गियरबॉक्स से लैस है। कंपनी का दावा है कि ये 0 से 100 kmph की स्पीड 11.3 सेकंड में पकड़ लेती है।

मर्सिडीज-बेंज वी क्लास: इसमें 2143cc का डीजल इंजन दिया है। यह इंजन 165bhp का पावर और 500Nm का टॉर्क जनरेट करता है। कंपनी का दावा है कि ये 0 से 100 kmph की स्पीड 10.9 सेकंड में पकड़ लेती है।

टोयोटा वेलफायर: इसकी फ्रंट रो को दो अलग कम्पार्टमेंट में बांटा गया है। ड्राइवर सीट और फ्रंट पैसेंजर सीट के बीच में गियरबॉक्स को फिक्स किया गया है, जो बड़े आर्मरेस्ट और बॉक्स के साथ आता है। इसकी दोनों सीट पर अलग-अलग टेम्प्रेचर सेट कर सकते हैं। सीट को अप या डाउन करने के लिए इलेक्ट्रिक बटन दिए हैं। इसकी स्टीयरिंग, स्पीडोमीटर कंपनी की फॉर्च्यूनर और इनोवा की तरह हैं। इनमें कोई चेंजेस नहीं किए गए हैं। डैशबोर्ड काफी बड़ा है, जिसमें एक बॉक्स के साथ फ्लैट सरफेस भी दिया है। फ्रंट रो में टॉप रूफ की तरफ चार बटन दिए हैं, जिनमें एक टेलगेल, दूसरा सनरूफ और अन्य दो बटन बैक गेट को खोलने के लिए दिए हैं। 

मर्सिडीज-बेंज वी क्लास: ये कंपनी की मोस्ट स्पेसियस कार है। इसकी फ्रंट रो में ड्राइवर और पैसेंजर सीट के बीच फुली पार्टीशन नहीं है, लेकिन दोनों के बीच बड़ा आर्मरेस्ट मिलता है। इसके गियरबॉक्स को डैशबोर्ड में फिक्स किया गया है। इसमें 360 डिग्री कैमरा बटन, इलेक्ट्रिक पार्किंग ब्रेक के साथ एक बड़ा स्टोरेज बॉक्स दिया है। ऊपर की तरफ इसमें सनग्लास होल्डर दिया है। इसमें भी सनरूफ मिलती है।

टोयोटा वेलफायर: इसकी सेकंड रो में दो पैसेंजर के लिए किसी एयरलाइन के बिजनेस क्लास के जैसी सीट दी हैं। इन सीट्स को इलेक्ट्रीकली ऑपरेट कर सकते हैं। यानी सीट को आगे या पीछे करने के साथ ऊपर-नीचे भी कर सकते हैं। सीट में बड़ा फुट रेस्ट भी दिया है। आप इन सीट पर सोना चाहते हैं तब सीट को पीछे और फुट रेस्ट को आगे करके आराम कर सकते हैं। सीट के आर्मरेस्ट में ग्लास होल्डर के साथ एक मिनी टेबल भी दी है। दोनों सीट के लिए अलग-अलग एसी वैंट्स दिए हैं, जिनका कंट्रोल भी अलग-अलग है। यहां पर एक सनरूफ भी दी गई है। लास्ट यानी थर्ड रो में तीन पैसेंजर्स के लिए जगह दी है। इस रो के लिए अलग एसी वैंट्स दिए हैं। यहां फोन और ग्लास के लिए स्पेस दिया है।

मर्सिडीज-बेंज वी क्लास: इसकी सेकंड रो की सीट को 360 घुमाया जा सकता है। यानी सीट को थर्ड रो की तरफ घुमाकर एक कॉन्फ्रेंस केबिन तैयार किया जा सकता है। हालांकि, वेलफायर की तरह सेकंड रो पैसेंजर्स को बड़े आर्मरेस्ट नहीं मिलेंगे। वी क्लास में ये सुविधा थर्ड रो के पैसेंजर को मिलेगी। यहां पर भी दो सीट हैं जिनके बीच में फुली लोडेड आर्मरेस्ट दिया है। इसके अंदर बड़ी ट्रे और ग्लास होल्डर दिए हैं। जिस पर लैपटॉप भी रखा जा सकता है। खास बात है कि इस आर्मरेस्ट को सेंटर में मूव करके चारों सीट के बीच में टेबल ओपन कर सकते हैं। यहां पर बड़ी विंडो दी हैं जिससे बाहर का एरिया पूरी तरह नजर आता है।

टोयोटा वेलफायर: टोयोटा ने वेलफायर में पैसेंजर्स के एंटरटेनमेंट का खास ध्यान रखा है। इसके लिए सेकंड रो में 13-इंच की हैंगिंग सीलिंग स्क्रीन दी है। जो HDMI, वाईफाई, USB कनेक्टिविटी के साथ आती है। इसे कार में ऐसी जगह प्लेस किया गया है कि तीसरी रो में बैठने वाले पैसेंजर्स भी वीडियो देख सकते हैं। इसके साथ इसमें जेबीएल का 17 स्पीकर वाला प्रीमियम ऑडियो सिस्टम दिया है। ये स्मार्ट डिवाइस लिंक, एपल कारप्ले, एंड्रॉयड ऑटो, ब्लूटूथ, USB पोर्ट कनेक्टिविटी के साथ आता है।

मर्सिडीज-बेंज वी क्लास: इसमें बर्मेस्टर का सराउंड सिस्टम दिया है, जो 15 हाई परफॉर्मेंस स्पीकर्स और एक बास रिफलेक्स स्पीकर के साथ आता है। ये कुल मिलाकर 640 वॉट का साउंड आउटपुट देते हैं। वी-क्लास के भारतीय बाजार में दो मॉडल आते हैं। हाईएंड मॉडल में दो टीवी स्क्रीन भी मिलती हैं।

टोयोटा वेलफायर: इस गाड़ी में पार्किंग असिस्ट अलर्ट, पैनारोमिक व्यू मॉनिटर, 7 SRS एयरबैग्स, व्हीकल स्टेबिलिटी कंट्रोल, व्हीकल डायनामिक इनग्रेटेड मैनेजमेंट, हिल स्टार्ट असिस्ट कंट्रोल, ब्रेक होल्ड, एबीएस, ईबीडी, बीए, टीपीएमएस, इमोबिलाइजर और अलार्म जैसे सेफ्टी फीचर्स दिए हैं।

मर्सिडीज-बेंज वी क्लास: इस कार में 360 डिग्री एक्टिव पार्किंग असिस्ट कैमरा, अटेंशन असिस्ट, एयरबैग्स (विंडो, ड्राइवर, फ्रंट पैसेंजर, रियर पैसेंजर), हिल स्टार्ट असिस्ट कंट्रोल, एबीएस, ईबीडी, इमोबिलाइजर जैसे सेफ्टी फीचर्स दिए हैं।

टोयोटा वेलफायर और मर्सिडीज-बेंज वी क्लास के कम्पेरिजन को लेकर ऑटो एक्सपर्ट और यूट्यूबर आशीष मसीह ने बताया कि जब ग्राहक 80 से 90 लाख रुपए खर्च करेगा तब वो मर्सिडीज की तरफ ही जाएगा, क्योंकि इसमें एक क्लास है। इसे ड्राइविंग काफी स्मूद है और ये ज्यादा कम्फर्ट एमपीवी भी है। वेलफायर भी बेहतर है, लेकिन स्पीड और क्वालिटी के मामले में वी-क्लास वाकई क्लास गाड़ी है।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *