Thappad: Taapsee Pannu recalls- My heart gone broken when my performance in Pink was not even nominated in award shows | तापसी पन्नू ने बयां किया दर्द, बोलीं- जब ‘पिंक’ के लिए कोई अवॉर्ड नहीं मिला तो मेरा दिल टूट गया था

Dainik Bhaskar

Feb 26, 2020, 01:58 PM IST

बॉलीवुड डेस्क.  ‘थप्पड़’ के प्रमोशन व्यस्त तापसी पन्नू का कहना है कि जब उन्हें ‘पिंक’ (2016)  के लिए अवॉर्ड नहीं मिला तो उनका दिल टूट गया था। उन्होंने यह बयान एक अंग्रेजी वेबसाइट से बातचीत में दिया। वे कहती हैं, “सिर्फ एक बार मेरा दिल टूटा था और वह वो समय था, जब ‘पिंक’ के लिए मुझे अवॉर्ड नहीं मिला था। मैं अवॉर्ड्स के लिए नॉमिनेटेड नहीं थी और जहां नॉमिनेशन मिला, वहां अवॉर्ड नहीं मिला।”

‘मेरे परफॉर्मेंस की तारीफ खूब हुई थी’
तापसी आगे कहती हैं, “पिंक की रिलीज के बाद जो भी  मिलता, वह फिल्म और मेरे परफॉर्मेंस की तारीफ करता। शूजित सरकार (डायरेक्टर) ने तो मुझसे यहां तक कह दिया था कि कपड़े सिलवा लो, तुम सभी अवॉर्ड जीतने वाली हो। एक लड़की जो उस समय इंडस्ट्री में नई थी, जिसे बहुत ज्यादा उम्मीद थी और जब उस साल वह नहीं हुआ तो ऐसा लगा, जैसे मेरे अंदर कुछ टूट गया। उसके बाद मुझे किसी चीज से फर्क नहीं पड़ा। अब जब मुझे अवॉर्ड मिलता है तो मैं अपने प्रति दयालू होने के लिए ज्यूरी और क्रिटिक्स का शुक्रिया अदा करती हूं। लेकिन अब दिल नहीं टूटता।”

‘सांड की आंख’ के लिए मिले अवॉर्ड पर 
तापसी को इस साल ‘सांड की आंख’ (2019)  के लिए फिल्मफेयर की ओर से ब्रेस्ट एक्ट्रेस (क्रिटिक्स) और जी-सिने अवॉर्ड्स की ओर से बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड दिया गया। इसे लेकर वे कहती हैं, “मैं सरप्राइज हूं कि इस साल मुझे अपनी एक्टिंग के लिए अवॉर्ड मिला, जिसके लिए लोग मुझे जानते हैं। मैं ऐसी इंसान नहीं हूं, जिसे फैशनिस्टा के तौर पर पहचाना जाए या जिसे उसके ग्लैमर के लिए जाना जाए। मुझे लगता है कि लोग मुझे मेरी फिल्मों या परफॉर्मेंस के लिए जानते हैं।” 

‘अवॉर्ड मेरे काम को वैलिडेट नहीं करते’
तापसी कहती है, “मैं अपने आपको इतनी सीरियसली नहीं लेती या यह महसूस नहीं करती कि अवॉर्ड नहीं मिला तो पता नहीं क्या हो जाएगा। मुझे नहीं लगता कि अवॉर्ड मेरे काम को वैलिडेट करते हैं। मेरे काम को वैलिडेट दर्शक करते हैं, जो अपनी मेहनत से कमाए पैसे से टिकट खरीदकर फिल्म देखते हैं। अवॉर्ड तो ज्यूरी के एक बंच द्वारा दिया जाता है, जो बहुत ही सब्जेक्टिव है। उन्हें नहीं लगता कि मैं तब डिजर्व करती थी, जब ‘पिंक’, ‘नाम शबाना’, ‘मनमर्जियां’ और ‘मुल्क’ आईं। वे फिल्में, जिन्हें दर्शकों ने पसंद किया और तारीफ की और मैं उनके लिए नॉमिनेटेड भी नहीं थी।” 

28 फरवरी को रिलीज हो रही ‘थप्पड़’
अनुभव सिन्हा के निर्देशन में बनी फिल्म ‘थप्पड़’ 28 फरवरी को रिलीज हो रही है। फिल्म में तापसी ऐसी लड़की का किरदार निभा रही हैं, जो सिर्फ एक थप्पड़ चलते पति से तलाक की मांग करती है। 


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *