Virat Kohli: Kohli on Cricket Workload India vs New Zealand Test Series News Updates | वर्कलोड के सवाल पर कोहली ने कहा- तीन साल तक तीनों फॉर्मेट खेलूंगा, इसके बाद कोई एक छोड़ने की सोचूंगा

  • विराट कोहली ने कहा- पृथ्वी शॉ बहुत प्रतिभाशाली खिलाड़ी, उन्हें अपना स्वभाविक खेल ही खेलना चाहिए
  • भारत-न्यूजीलैंड के बीच 2 टेस्ट की सीरीज का पहला मैच 21 फरवरी को वेलिंगटन में खेला जाएगा

Dainik Bhaskar

Feb 19, 2020, 04:02 PM IST

खेल डेस्क. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वे तीन साल क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट (वनडे, टेस्ट और टी-20) में खेलेंगे। इसके लिए उन्होंने खुद को तैयार किया है। इसके बाद वे वर्कलोड का आकलन कर किसी एक फॉर्मेट को छोड़ने पर विचार कर सकते हैं। कोहली ने यह बात न्यूजीलैंड के खिलाफ दो टेस्ट की सीरीज से पहले बुधवार को कही। भारत-न्यूजीलैंड के बीच पहला टेस्ट 21 फरवरी को वेलिंगटन में खेला जाएगा।

कोहली ने कहा कि वे भारतीय क्रिकेट को लेकर काफी आगे की सोच रहे हैं। अगले तीन साल में 2 टी-20 और एक वनडे वर्ल्ड कप होने वाला है। वर्कलोड को लेकर कोहली ने कहा, ‘‘यह कोई बातचीत नहीं है, जिसे आप किसी भी तरीके से छिपा सकते हैं। मुझे क्रिकेट खेलते लगभग 8 साल हो चुके हैं। मैं साल में 300 दिन खेल रहा हूं। इसमें यात्रा और अभ्यास सत्र भी शामिल है। वर्कलोड हर समय वही है।’’

वर्कलोड के चलते खिलाड़ी ज्यादा ब्रेक लेते हैं

उन्होंने कहा, ‘‘जीवन में एक समय ऐसा भी होता है, जब आपका शरीर कुछ भी ग्रहण नहीं कर सकता। 34 या 35 की उम्र में भी ऐसा हो सकता है। हालांकि, अगले 2 या 3 साल तक मुझे इस बारे में कुछ सोचने की जरूरत नहीं है। क्रिकेट से समय-समय पर ब्रेक लेने की बात पर कोहली ने कहा, ‘‘ऐसा नहीं है कि खिलाड़ी हर समय इसके बारे में नहीं सोच रहे हैं। हम व्यक्तिगत रूप से बहुत अधिक ब्रेक लेना चुनते हैं, भले ही शेड्यूल आपको अनुमति न दे। इनमें खासकर वे साथी खिलाड़ी होते हैं, जो सभी फॉर्मेट खेलते हैं।’’

कोहली ने कहा, ‘‘कप्तान होने के नाते अभ्यास सत्र में तेजी को बरकरार रखना आसान नहीं होता है। यह आप पर हमेशा भारी पड़ता है। हालांकि, समय-समय पर ब्रेक मेरे लिए बहुत अच्छा काम करता है।’’

‘उम्मीद है मयंक-पृथ्वी शानदार प्रदर्शन दोहराएंगे’

कोहली ने टीम को लेकर कहा, ‘‘पृथ्वी बहुत प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं। उनका अपना खेलने का अंदाज है और हम चाहते हैं कि वह उसी तरह खेलें जिस तरह वह खेलते हैं। मुझे लगता है कि मयंक ने ऑस्ट्रेलिया में अच्छा खेल दिखाया और उम्मीद है कि पृथ्वी भी न्यूजीलैंड में ऐसा दोहरा पाएंगे। साथ ही मयंक भी अपने प्रदर्शन को दोहरा पाएंगे।’’


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *